गुरुवार, जनवरी 29

"मेरा गीत है प्यारा ला दो ना"


मुझको मेरा गीत है प्यारा ला दो ना
सरगम की ये बहती धारा ला दो ना
भूल न जाना कर के वादा
हो न जाए एक पल भी ज्यादा
पल पल में गए युग युग बीत
मुझको मेरा प्यारा गीत ...
हाँ गीत ये प्यारा ला दो ना
निभा सको न तो क्यों किया है
प्रेम वचन क्यों तुमने लिया है
हार हमारी किसकी जीत
मुझको मेरा प्यारा गीत.....
हाँ गीत ये प्यारा ला दो ना
गीत नही ये अतीत है मेरा
हाँ यही तो है मनमीत मेरा
क्या हुआ जो रूठे दिल का मीत
मुझको मेरा प्यारा गीत
हाँ गीत ये प्यारा ला दो ना

15 टिप्‍पणियां:

"अर्श" ने कहा…

बहोत ही बढ़िया गीत लिखा है आपने बही भाई साहब .... हाँ अब अगली बार से जाऊंगा तो आप सभी को इत्तला जरुर करके ही जाऊंगा ... अपने भाई को ख़ुद के बारे में ख्याल रखने के लिए शुक्रिया भी नही कर सकता ... ढेरो बधाई आपको ...

अर्श

Puneet Sahalot ने कहा…

beautiful expressions...
"हाँ गीत ये प्यारा ला दो ना
निभा सको न तो क्यों किया है
प्रेम वचन क्यों तुमने लिया है
हार हमारी किसकी जीत
मुझको मेरा प्यारा गीत....."

Harkirat Haqeer ने कहा…

मुझको मेरा गीत है प्यारा ला दो ना
सरगम की ये बहती धारा ला दो ना

bhot acchi paktiyan....swagat hai aapka.....

MUFLIS ने कहा…

पहले तो "मैं और मेरा लक्ष्य" के लिए
मुबारकबाद कुबूल फरमाएं......
और अब ...मुझको मेरा गीत है प्यारा....
लय और छंद का अनूठा संगम,
शब्द-शब्द में गीतात्मक अभ्व्यक्ति,
एक सुंदर रचना . . . .
बधाई !
---मुफलिस---

abhishek ने कहा…

मुझको मेरा गीत है प्यारा ला दो ना
सरगम की ये बहती धारा ला दो ना
भूल न जाना कर के वादा
हो न जाए एक पल भी ज्यादा
पल पल में गए युग युग बीत
मुझको मेरा प्यारा गीत ...

beautifull
i really like to read ur writeups

keep posting

ilesh ने कहा…

निभा सको न तो क्यों किया है
प्रेम वचन क्यों तुमने लिया है
हार हमारी किसकी जीत
मुझको मेरा प्यारा गीत.....

बहुत अच्छा लिखा हे....बधाई....

seema gupta ने कहा…

निभा सको न तो क्यों किया है
प्रेम वचन क्यों तुमने लिया है
" ya well said......why promises are made to be broken afterwards......true thoughts and may be the fact also..."

Regards

*KHUSHI* ने कहा…

गीत नही ये अतीत है मेरा
हाँ यही तो है मनमीत मेरा

bahut hi sundar geet likha hai apane sureji..

Dev ने कहा…

भूल न जाना कर के वादा
हो न जाए एक पल भी ज्यादा
पल पल में गए युग युग बीत
मुझको मेरा प्यारा गीत ...

aapki bhav ek nadi ki tarha bah nikae hai.. bahut sundar kavita.
Regards.

manu ने कहा…

हाँ गीत ये प्यारा ला दो ना
गीत नही ये अतीत है मेरा
हाँ यही तो है मनमीत मेरा
क्या हुआ जो रूठे दिल का मीत
man ke bhavo bahut kashis bhari khoobsurti se piroya hai . again a marvellous one.

महावीर ने कहा…

बहुत ख़ूब! गीत बहुत पसंद आया।
निभा सको न तो क्यों किया है
प्रेम वचन क्यों तुमने लिया है
हार हमारी किसकी जीत
मुझको मेरा प्यारा गीत...
महावीर शर्मा

ilesh ने कहा…

kaha he surendra ji aap...aapki nai rachna ka intajar....hoping u fit n fine..

regards

ilesh

Puneet Sahalot ने कहा…

bhaiya kya baat hai...?? aajkal blog par sannata kyu pasra rehta hai..??
kuchh naya padhna hai. jaldi kuchh naya likhiye blog par.
padhne ke liye line me pehla no. mera hi hoga. :)

Babli ने कहा…

आपने मेरी हर एक शायरी पे इतना सुन्दर कमेन्ट दिया उसके लिये मै आपका आभारी हू !
आप तो बहुत ही सुन्दर लिखते है और मेरा ये मान्ना है कि आप बडे ही उन्दा लेखक है !

Dr. shyam gupta ने कहा…

बहुत अच्छा लिखा है, अभिन्न,
मेरा गीत है प्यारा ला दो ना
पर कौन ला दे ?गीत तो आपके पास है.।

मेरा ब्लोग देखें।